Monday, 15 October 2018

सितारों का ताल मेल - Zodiac Compatibility



क्या आपको कभी ऐसा लगता है कि इतने लोग में किसी के तौर तरीके और नज़रियें आप जैसे हैं 

क्या आपको किसी की इतनी फ़िक्र हो जाती है जिसे आप अच्छी तरह जानते ही नहीं ?


क्या आप जान सकते है किसी की  प्रतिक्या क्या होगी कोई काम को लेकर ?


हम अक्सर सुनते है कि  तुम बिलकुल मेरे भाई की तरह सोचते हो या तुम और मैं एक जैसा काम करना पसंद करते हैं ।



Logics of Stars and Behaviour - Aura Of Thoughts




आप शायद सोच रहे होंगे कि यह सब तो हम आए दिन महसूस करते है । कहीं न कहीं हम ऐसे लोग से टकराते है और वही लोग हमारे अच्छे मित्र या हमसफ़र बन जाते ह । लेकिन सोचने वाली यह बात है कि यह कोई इत्तेफ़ाक़ है या फिर कुछ और ?

यह जो हमारे विचार, हमारे व्यवहार, हमारे तौर तरीके, तथा हमारा नजरिया हमें सारी दुनियाँ मैं किसी न किसी से 
जोड़ते हैं उनके पीछे हैं यह सौर मंडल के छोटे -छोटे टिम टिमाते तारे।  जी हाँ ! यह तारे ही तो हैं जो हमरी समानताओं से हमें जोड़े रखते हैं। हमारी राशि का बहुत बड़ा हाथ है जो हमारे विचारों पर असर करता है। राशियों की अनुकूलता कोई भी रिश्ते का एक सहज हिस्सा है। क्या आप ही मानते हैं राशि फल को ? चलिए देखते हैं कुछ रिश्ते जहाँ  प्रभाव महसूस किया जाता है।

सबसे पहले हम बात करते हैं माता-पिता और बच्चों के रिश्ते की। हर माता-पिता अपने बच्चों की जरूरतों को बखूबी 
समझते हैं और बच्चे के आचरण भी उन्ही की तरह होते हैं। परन्तु ऐसा भी देखा गया है कि बच्चे अपने माता -पिता से बिलकुल विपरीत सोच सोच रखते हैं और उनकी पसंद और नापसंद भी अलग होती हैं। कुछ हद तक हम कह सकते हैं की वे माता - पिता के राशि के अनुकूल नहीं हैं और यहीं काऱण हो सकते हैं उनके अलग व्यवहार का। 

अब हम देखें राशि का असर भाई बहनों पर कैसे प्रभाव करता है। एक ही घर मैं एक ही माहौल मैं एक ही छत के नीचे 
पले बढे भाई - बहन भी अलग अलग सोच रखते हैं। एक जल्दी से सब से घुल मिल जाता  है ताऊ दूसरे को समय लगता हैं, किसी को खेल  रूचि रखता  तो कोई पढाई मैं अव्वल। और तो और  उनका आपस मे ताल मेल भी हमारे यही तारों का असर है। एक  राशि का दूसरे राशि से अनुकूल होना रिश्तों मैं मिठास ले आता है। 

हमारे जीवन साथी जिनके साथ हम हर सफर तय  हैं उनकी भी अपनी अपनी दिलचस्पी होती है। एक दुसरे के शौक 
एक समान होते हैं तो कई बार साथ देने के लिए हमें कुछ काम करने पड़ते हैं।आजकल राशि मिलान भी लड़के-लड़कियों में प्रचलन में है। ऐसा हम सबने देखा भी है कि कुंडली
मिलान के बाद ही शादी के रिश्ते तय करते हैं। कहीं न कहीं ये राशियों की अनुकूलता हर रिश्ते को एक खट्टी मीठी समानताएँ व असमानताएँ देती हैं। 

परन्तु ऐसा भी नहीं कहा जा सकता की जिन लोगों की समान राशि है उनके व्यवहार बिल्कुल राशि के अनुसार ही हो 
लेकिन यह भी नकारा नहीं जा सकता की उनकी बुनियाद उनकी राशि ही बनती है। 

हमारे सितारे चाहे कुछ भी कहें उन्हें उनका काम करने दें आखिर हमारी किस्मत हमारी मुठी मैं है इसीलिये अपना 
दिल जो कहे वही करें फिर देखें की कैसे यह टीम टिमाते तारे आपकी सहायता के लिए जुट जाते हैं। सौरमंडल के यह विभिन्न अक्कर मैं सम्मिलित तारे आपकी मदद जरूर करेंगे, उनमे विश्वास रखिये अंधविश्वास नहीं।

@मीनल 


6 comments:

  1. You are right Meenal our zodiac often forms the basis of our behaviour and I can’t agree more ❤️❤️

    ReplyDelete
  2. I too believe in a horoscope when it comes to matching it with a boy & girl when they are ready to marry. But I do not blindly trust it. It's just who know about the stars and all

    ReplyDelete
  3. Har rishta behad khoobsurat hai. Aur hame pata hai ki Hum rishte ko kaise strong bana sakte hai. Kabhi pyar se kabhi patience se. Nice post

    ReplyDelete
  4. A well written post on relationships, horoscopes and stars... indeed for a great companionships a lot of understanding is required

    ReplyDelete
  5. I am a strong believer in zodiacs and it comes out true for me most of the times...but still when tough times are there I keep hopes and positive attitude which helps me come out of it..

    ReplyDelete
  6. Yes I completely believe with your post that it does work and we should not interfere much. Thanks for sharing it.

    ReplyDelete

Your each word matters! So drop a word or two :)